×

एफसीआई एक फरवरी से खुले बाजार में 33.7 लाख टन गेहूं बेच चुका है

17 Mar, 2023

बिक्री ने पूरे देश में गेहूं और आटे की कीमत को ठंडा करने में महत्वपूर्ण प्रभाव डाला है, जो कि गेहूं की खुली बिक्री के लिए भविष्य की निविदाओं के साथ स्थिर रहने की संभावना है।"

FasalKranti
Vipin Mishra, समाचार, [17 Mar, 2023]
259

भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) ने छठी ई-नीलामी में निजी थोक खरीदारों जैसे आटा मिलों और खाद्य कंपनियों को 491,000 टन गेहूं बेचा है, जिससे इस साल खुले बाजार में बेचा गया कुल अनाज 33.7 लाख टन हो गया है।

एफसीआई द्वारा थोक खरीदारों को पिछले अखिल भारतीय ई-नीलामी के तहत पेश किए गए 1.6 मीट्रिक टन गेहूं में से, 23 क्षेत्रों के 970 बोलीदाताओं ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के मुकाबले 2,214 रुपये प्रति क्विंटल के औसत मूल्य पर गेहूं खरीदा। 1 अप्रैल से शुरू होने वाले अगले खरीद सीजन (2023-24) के लिए क्विंटल तय है।

खाद्य मंत्रालय ने गुरुवार को एक बयान में कहा, "बिक्री ने पूरे देश में गेहूं और आटे की कीमत को ठंडा करने में महत्वपूर्ण प्रभाव डाला है, जो कि गेहूं की खुली बिक्री के लिए भविष्य की निविदाओं के साथ स्थिर रहने की संभावना है।"

खुले बाजार में बिक्री के माध्यम से, गेहूं का बाजार मूल्य वर्ष की शुरुआत में प्रचलित `3,000/क्विंटल से वर्तमान में एमएसपी के करीब गिर गया है।

इस बीच, रोलर फ्लोर मिलर्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने गुरुवार को कहा कि पिछले दो महीनों में गेहूं और आटा (आटा) की कीमतें 6-8 रुपये प्रति किलोग्राम घटकर 23-24 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई हैं। एक फरवरी से खुले बाजार में अनाज बेचने का फैसला किया है।


महासंघ को 2022-23 फसल वर्ष (जुलाई-जून) में रिकॉर्ड 108-110 मीट्रिक टन गेहूं की फसल की उम्मीद है।

महासंघ ने कहा कि रिकॉर्ड उत्पादन, गेहूं की कीमतों में कमी के साथ मिलकर सरकार को आगामी खरीद सीजन में 34 मीट्रिक टन अनाज खरीदने में सक्षम करेगा।

एफसीआई ने अब तक खुले बाजार में गेहूं बेचकर करीब 7,000 करोड़ रुपये की वसूली की है। चालू माह के अंत तक गैर-खरीद वाले राज्यों में निगम द्वारा खुले बाजार में गेहूं की बिक्री जारी रखने की संभावना है।

अब तक, सरकार ने खुले बाजार में बेचने के लिए 5 मीट्रिक टन गेहूं बेचने की मंजूरी दी है, जिसमें अधिकतम खुदरा मूल्य पर आटा (आटा) बेचने के लिए राज्य सरकारों और नाफेड, केंद्रीय भंडार और एनसीसीएफ जैसी एजेंसियों को आवंटित 540,000 टन अनाज शामिल है। कीमत ₹27.50/किग्रा है।

गुरुवार तक, FCI के पास 10.7 मीट्रिक टन गेहूं का स्टॉक है, जबकि 1 अप्रैल, 2023 के लिए बफर आवश्यकता 7.4 मीट्रिक टन है। खाद्य मंत्रालय के आकलन के अनुसार, 1 अप्रैल, 2023 तक FCI के पास मौजूद गेहूं का स्टॉक 74 लाख टन के बफर के मुकाबले लगभग 97 लाख टन होगा।

फरवरी 2023 में खुदरा गेहूं की महंगाई दर साल दर साल बढ़कर 25.37% हो गई।

खुले बाजार में बिक्री नीति के तहत सरकार एफसीआई को थोक उपभोक्ताओं और निजी व्यापारियों को समय-समय पर खुले बाजार में पूर्व निर्धारित कीमतों पर खाद्यान्न, खासकर गेहूं और चावल बेचने की अनुमति देती है।

इसका उद्देश्य मंदी के मौसम के दौरान आपूर्ति को बढ़ावा देना और कीमतों को कम करना है। कृषि मंत्रालय के 2022-23 फसल वर्ष (जुलाई-जून) के लिए रिकॉर्ड 112.18 मीट्रिक टन गेहूं की फसल के अनुमान ने 1 अप्रैल से शुरू होने वाले अगले विपणन सत्र के लिए सरकार के खरीद अभियान की संभावनाओं को बढ़ावा दिया है।


Tags : FCI | wheat |

Related News

राज्‍यसभा सांसद स्‍वाति मालीवाल से साथ किए गए दुर्व्‍यवहार के मामले में राजनीति गरमाई

भारतीय स्टार फुटबॉलर सुनील छेत्री ने फुटबॉल से संन्यास लेने का फैसला किया

केजरीवाल ने लोगों से भारतीय जनता पार्टी को वोट नहीं देने की अपील

मल्लिकार्जुन खड़गे ने भारतीय जनता पार्टी पर तीखा हमला बोला

कैलेडोनिया में हिंसक प्रदर्शनों के बाद आपातकाल का ऐलान

आईटी उद्योग को बेहतर बनाने के लिए शिक्षण संस्थानों को शोध के लिए ज्यादा फंड की जरूरत

निर्यात मांग में कमी के कारण प्याज की कीमतों में 15% की गिरावट

प्रतिकूल मौसम से यूपी और बंगाल में आलू उत्पादन प्रभावित हुआ

आयकर टीम ने भंडारी फाइनेंस व आदिनाथ कोऑपरेटिव बैंक पर छापा मारा

विवादित बयान देने के मामले में पूर्व पत्रकार केतन तिरोडकर 3 दिन की पुलिस हिरासत में

ताज़ा ख़बरें

1

विवादित बयान देने के मामले में पूर्व पत्रकार केतन तिरोडकर 3 दिन की पुलिस हिरासत में

2

तीन वर्षीय लड़की की बंद कार में दम घुटने से मौत

3

वेज थाली चिकन थाली से ज्यादा महंगी क्यों है? पढ़िए पूरी सच्चाई

4

किसानों का प्रीमियम हिस्सा 32,329 करोड़ रुपये, रिकॉर्ड 40 मिलियन नामांकन हुए

5

सरकार ने दालों और प्याज की खरीद के लिए किसानों का अग्रिम पंजीकरण शुरू किया

6

शहरी क्षेत्रों में बेरोजगारी दर में गिरावट

7

जल्द शुरू होगा तीसरे एयरक्राफ्ट कैरियर को बनाने का काम

8

कंगाली में पहुंचा पाकिस्तान, सरकारी कंपनियों को बेचने का किया फैसला

9

गृह मंत्रालय ने नागरिकता संशोधन अधिनियम के तहत पहला नागरिकता प्रमाण पत्र जारी किया

10

उत्तराखंड आग मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकार को जमकर फटकार लगाई


ताज़ा ख़बरें

1

विवादित बयान देने के मामले में पूर्व पत्रकार केतन तिरोडकर 3 दिन की पुलिस हिरासत में

2

तीन वर्षीय लड़की की बंद कार में दम घुटने से मौत

3

वेज थाली चिकन थाली से ज्यादा महंगी क्यों है? पढ़िए पूरी सच्चाई

4

किसानों का प्रीमियम हिस्सा 32,329 करोड़ रुपये, रिकॉर्ड 40 मिलियन नामांकन हुए

5

सरकार ने दालों और प्याज की खरीद के लिए किसानों का अग्रिम पंजीकरण शुरू किया

6

शहरी क्षेत्रों में बेरोजगारी दर में गिरावट

7

जल्द शुरू होगा तीसरे एयरक्राफ्ट कैरियर को बनाने का काम

8

कंगाली में पहुंचा पाकिस्तान, सरकारी कंपनियों को बेचने का किया फैसला

9

गृह मंत्रालय ने नागरिकता संशोधन अधिनियम के तहत पहला नागरिकता प्रमाण पत्र जारी किया

10

उत्तराखंड आग मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकार को जमकर फटकार लगाई