loader

एम आवास योजना के अंतर्गत कार्य अधूरा 

पटना के शहरी क्षेत्न में प्रधानमंत्नी आवास योजना के तहत बनाए जा रहे मकान किस्त के अभाव में अधूरे हैं। इससे आवास के बिना शहरी क्षेत्न में रहने वाले गरीबो  को अपने घर का सपना पूरा नहीं हो रहा है।

fasalkranti.in
समाचार, 24 Sep, 2021

पटना के शहरी क्षेत्न में प्रधानमंत्नी आवास योजना के तहत बनाए जा रहे मकान किस्त के अभाव में अधूरे हैं। इससे आवास के बिना शहरी क्षेत्न में रहने वाले गरीबो  को अपने घर का सपना पूरा नहीं हो रहा है। बारिश व चिलचिलाती धूप के बीच गरीब झुग्गी-झोपड़ी व सड़क किनारे समय गुजारने को मजबूर हैं, लेकिन, राशि के अभाव में चयनित लाभुकों का मकान का निर्माण पूरा नहीं हो पा रहा है। 

नगर निगम में उपलब्ध आंकड़ों पर गौर करें, तो साढ़े चार साल में सिर्फ 392 लाभुका का ही घर बन पाया है। जबकि, तीन अलग-अलग वित्तीय वर्ष में कुल 3873 लोगों का चयन इस योजना के लिए किया गया था। 2156 ऐसे गरीब हैं जिनका आशियाना लंबे समय से निर्माण कार्य रुका रहने के कारण खंडहर में तब्दील होने लगा है। क्योंकि, इन लोगों को एक से दो किस्त की राशि मिल चुकी है, जिससे निर्माण कार्य शुरू कर बाकी किस्त के इंतजार में अधूरा हैं. 

छह माह से कोई भी फंड नहीं मिला। जबकि, नगर निगम की तरफ से लगभग 30 करोड़ रुपये की डिमांड पत्न तैयार कर सरकार को भेजी गयी है. अब तक खर्च हुए लगभग 38 करोड़ रुपये का उपयोगिता प्रमाण पत्न भी सरकार को भेजी। इससे मार्च के बाद अब तक एक भी चयनित लाभुकों के बैंक खाता में राशि ट्रांसफर नहीं हो सका है। कि प्रथम किस्त में 50 हजार, दूसरी किस्त में एक लाख, तीसरी में 20 हजार व चौथी किस्त में 30 हजार रुपये देने का प्रावधान है। नगर आयुक्त उम्मीद है कि शीघ्र सरकार से राशि मिलेगी। नगर निगम स्तर पर जिन लाभुकों को प्रथम, द्वितीय, तृतीय व फाइनल किस्त की राशि ट्रांसफर करना है। इसकी कागजी प्रक्रिया पूरी ली गई . जैसे ही सरकार से राशि आवंटित होगी. अविलंब लाभुकों के अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जायेगी।

 

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

समाचार से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

पाठकों की पसंद