loader

जानिए चुकंदर खाने के फायदे।

आज हम जानेंगे रबी सीजन के मुख्य सब्ज़ी चुकंदर  के फायदे के बारे में , जो की आयरन और विटामिन से भरपुर है .चुकंदर को ज्यादातर लोग इसके लाल रंग के कारण खून बढ़ाने के लिए उपयोग करते हैं। 

fasalkranti.in
समाचार, 27 Sep, 2021, (अपडेटेड 27 Sep, 2021 08:24PM)

आज हम जानेंगे रबी सीजन के मुख्य सब्ज़ी चुकंदर  के फायदे के बारे में , जो की आयरन और विटामिन से भरपुर है .चुकंदर को ज्यादातर लोग इसके लाल रंग के कारण खून बढ़ाने के लिए उपयोग करते हैं। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि चुकंदर जो कि एक सुपरफूड है कई तरह की बीमारियों को ठीक करने का कार्य करता है। चुकंदर का सेवन अक्सर लोग सलाद और जूस के रूप में करते हैं। आज हम आपको चुकंदर खाने के फायदे और उनसे होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बारे में बताने वाले हैं।

चुकंदर आयरन का अच्छा स्रोत माना जाता है क्योंकि इसमें फोलिक  एसिड पाया जाता है जो कि खून बढ़ाने के लिए आवश्यक होता है। इसके साथ ही इसमें बीटानिन नामक पिगमेंट पाया जाता है जो इसे पिंक कलर प्रदान करता है। इसके साथ ही चुकंदर में नाइट्रेट, मैग्नीशियम, सोडियम, पोटेशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, आयोडीन, विटामिन बी1, बी2 और विटामिन सी पाया जाता है।चुकंदर के फायदे अनगिनत होते हैं, इसलिए इसे सुपरफूड के रूप में भी जाना जाता है। हैं। चुकंदर न सिर्फ सौन्दर्य दृष्टि से फायदेमंद है बल्कि ये स्वास्थ्यवर्द्धक भी है। चुकंदर का पूरा पौधा एवं इसका प्रत्‍येक हिस्‍सा खाने योग्‍य होता है। 

आयाए अब जानते है चुकंदर के फायदे और गुण बारे में -     

1). हाई ब्लड प्रेशर के लिए फायदेमंद 

हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के कई आधुनिक उपाय मौजूद हैं, लेकिन प्राकृतिक उपचार में चुकंदर का सेवन किया जा सकता है। बीटरूट में नाइट्रेट नामक तत्व पाया जाता है, जो हाई बीपी को कम करने का काम करता है। 

2). डायबिटीज़ मे फायदेमंद 

चुकंदर खाने का एक फायदा यह भी हैं की ये मधुमेह को नियंत्रण करता है। इसके हाइपोग्लेमिक गुणों के कारण डायबिटीज के प्राकृतिक इलाज के रूप में चुकंदर का सेवन किया जा सकता है। इसमें बहुत कम कैलोरी होती है और इसका फैट-फ्री होना भी इसे डायबिटीज़ के मरीजों के लिए परफेक्ट वेजिटेबल बनाता है। 

3). गंजापन से बचाएं  

चुकन्दर के पत्ते के रस को कुछ दिनों तक लगातार सिर में लगाने से सिर का गंजापन कम होता है या चुकन्दर पत्ते में हल्दी मिलाकर पीसकर सिर में लगाने से भी बालों का झड़ना कम होता है। इसे मेहँदी के साथ मिलाकर बाल रंगने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

4). कब्ज में मददगार 

चुकंदर में फाइबर होता है इसलिए यह कब्ज को दूर करने के लिए दवाई का काम करता है।

 

5). एनीमिया में लाभकारी 

आयरन शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं बनाने में मदद करता है और लाल रक्त कोशिकाएं शरीर के विभिन्न भाग में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करती हैं। एनीमिया ऐसी अवस्था होती है, जब शरीर में आयरन की कमी के कारण पर्याप्त लाल रक्त कोशिकाएं नहीं बन पाती। चुकंदर में पर्याप्त मात्रा में आयरन, विटामिन और मिनरल्स होते हैं, जो खून को बढ़ाने और उसे साफ करने का काम करते है.

6). दिमाग के लिए हितकारी 

कॉग्निटिव फंक्शन जैसे स्मृति, एकाग्रता, निर्णय लेने की क्षमता आदि उम्र के साथ कम होने लगती है। इसके पीछे का मुख्य कारण होता है दिमाग के ऊपरी हिस्से (सेरिब्रेम) की तरफ ब्लड फ्लो की कमी हो जाना। यह आगे चल कर अन्य गंभीर समस्या जैसे ब्रेन डैमेज या अल्जाइमर रोग आदि का कारण बन सकता है। ऐसे में नाइट्रिक ऑक्साइड का अच्छा स्रोत जैसे चुकंदर इस समस्या को कुछ हद तक कम करने में मदद कर सकता है। यह दिमाग में रक्त संचार को बढ़ाता है 

7). हार्ट के लिए हितकारी 

चुकंदर का जूस दिल का सबसे अच्छा दोस्त है। दिल के मरीज को बीटरूट का जूस पीना चाहिए। चुकंदर का जूस पीने से हाइपरटेंशन और हार्ट अटैक जैसी बीमारियां दूर होती हैं। इसके लिए एक चुकंदर लें और उसे छिल कर अच्छे से धो लें। इसके बाद उसे मिक्सर जार में डाल कर अच्छे से पीस लें। फिर छन्नी से छान कर उसमें जीरा पाउडर और नमक डालकर उसका सेवन करें। अगर आप हाई ब्लड प्रेशर के मरीज हैं तो बीटरूट जूस में नमक ना डालें। अगर आपका ब्लड प्रेशर लो रहता है तो आप नमक के साथ इसका सेवन कर सकते हैं।

8). दर्द में राहत 

चुकन्दर का इस्तेमाल आप आयुर्वेद के तौर पर दर्द से राहत पाने के लिए भी कर सकते हैं। चुकन्दर के तेल की मालिश करने से दर्द से आराम मिलता है। चुकन्दर के पत्तों के रस में शहद मिलाकर सूजन पर लगाने से जल्द राहत मिलती है।

9). पीरियड्स में मददगार 

पीरियड्स में चुकंदर का रस या जूस पीने से आराम मिलता है। कई बार कुछ महिलाओं में पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग होती है, तो उन्हें ब्लड की कमी का सामना भी करना पड़ता है। ऐसे में आपको ब्लीडिंग चाहे हैवी हो या कम हो, पीरियड्स में बीटरूट जूस का सेवन करने से ब्लड की कमी नहीं होती है। चुकंदर आयरन से समृद्ध होता है और ये रक्त की मात्रा और रक्त प्रवाह में सुधार करने में मदद करता है। आयरन, लाल रक्त कोशिकाओं का एक आवश्यक तत्व है और शरीर के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की आपूर्ति के लिए जिम्मेदार है।

10). चुकंदर खूबसूरती बनाये रखे 

बीटरूट का सेवन करने से त्वचा में ब्लड फ्लो अच्छा होता है, जिससे एजिंग धीमे-धीमे होती है। इसके अलावा अगर आपके होंठ काले हैं तो इसका रस होंठों पर लगाने से पिंक लिप्स पा सकते हैं। आंखों के नीचे डार्क सर्कल होने पर भी बीटरूट जूस लगाने से डार्क सर्कल कम होते हैं। वहीं, आप इसके पतले-पतले स्लाइस काट कर चेहरे पर लगा सकते हैं, जिससे आपको फ्रेश और एक समान रंगत वाली स्किन मिलेगी। चुकंदर आपके चेहरे पर झुर्री और धारियों को कम करने में मदद करता है। चुकंदर फोलेट और फाइबर का एक अच्छा स्रोत है जो त्वचा से अशुद्धियां और गंदगी को हटाने में भी मदद करता है।

11). गर्भवती महिलाओं और भ्रूण के लिए फायदेमंद 

चुकन्दर में उच्च मात्रा में फॉलिक एसिड पाया जाता है। यह पोषक तत्व गर्भवती महिलाओं और उनके अजन्म बच्चों के लिए महत्वपूर्ण होता है क्योंकि इससे अजन्म बच्चे का मेरुदंड बनने में मदद मिलती है। चुकन्दर गर्भवती महिलाओं को अतिरिक्त ऊर्जा देता है। 

12). शरीर में उर्जा बढ़ाता है 

जो लोग जिम में काफी वर्कआउट करते है और सारा दिन काम कर के थक जाते है उनके लिए चुकंदर खाना बहुत फायदेमंद होता है। चुकंदर खाने से एनर्जी लेवल बढ़ता है। 

13). कैंसर में फायदेमंद 

चुकंदर में बेटासायनिन नामक रासायनिक तत्व की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जिसके कारण चुकंदर का रंग हल्का भूरा और बैंगनी होता है। इसी वजह से यह हमारे शरीर को कैंसर जैसी घातक बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। 

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

समाचार से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

पाठकों की पसंद