loader

बारिश हुई तो नहीं लौटेगी किसानों के घर  पूंजी

बिहार के जहानाबाद जिले में तीन-चार दिनों से हल्के बादल का प्रभाव दिख रहा है। बादल को देख किसान पिछले साल हुई क्षति को याद कर कांप जा रहे हैं। बेसमय बारिश से सदर सहित अन्य प्रखंडों के किसानों 

fasalkranti.in
समाचार, 05 Dec, 2021

बिहार के जहानाबाद जिले में तीन-चार दिनों से हल्के बादल का प्रभाव दिख रहा है। बादल को देख किसान पिछले साल हुई क्षति को याद कर कांप जा रहे हैं। बेसमय बारिश से सदर सहित अन्य प्रखंडों के किसानों की पथार पर व खिलहान में पडी फसल भींगकर खराब हो गई थी, जिसकी कीमत भी किसानों को नहीं मिल सकी थी। कुछ किसान तो फसल को मवेशियों तक को खिला दिए थे। इस बार भी ऐसा ही न हो यह सोंचकर किसान डर रहे हैं क्योंकि अधिकांश किसानों की फसल खेत-खिलहान व पथार पर है। अगर बारिश हुई तो न सिर्फ कटनी-दवनी बल्कि रबी की बुआई भी प्रभावित होगी। अगर बारिश के कारण फसल को क्षति हुई और बुआई में देर हुई तो उपज मारी जाएगी। 

दोनों परिस्थिति में किसानों को आर्थिक नुकसान का सामना करना पडेगा। किसानों ने बताया कि खेतों में हार्वेस्टर से धान की कटनी का काम चल रहा है। दो दिनों से बीच-बीच में आसमान में बादल छा रहे है। उक्त किसानों ने बताया कि बादल को देख कर मन घबरा रहा है। सदर प्रखंड के किसानों ने बताया कि आसमान में छाए बादल के बीच अगर थोडी भी बारिश हुई तो हार्वेस्टर से कटनी व बुआई का काम प्रभावित हो जाएगा। किसानों का कहना है कि धान की कटनी-दवनी के पीक सीजन में अगर बारिश हुई तो खेत-खिलहानों में धान सडकर बर्बाद हो जाएगा और खेती में लगी घर की सारी पूंजी भी भी डुब जाएगी। ज़लिे के किसानों ने बताया कि खरीफ की खेती में घर की सारी पूंजी लगा दिए है। पास में अब फुटी कौडी भी नहीं बची है। 

धान बेचकर ही सारा काम करना है। ऐसी स्थिति में अगर बेमौसम बारिश हुई तो धान भींगकर नष्ट हो जाएगा, जिससे सारे प्लान व सपने मन में ही दफन हो जाएंगे। बिगड रहे मौसम को जिले के किसान धान की कटनी, दवनी व रबी फसल की बुआई का काम तेजी से निपटा रहे हैं। किसानों ने बताया कि आसमान में बादल को देख मन चिंता में डूब जा रहा है। इस चिंता को दूर करने के ख्याल से धान की कटनी, दवनी व गेहूं-चना की बुआई का काम तेजी से निबटा रहे हैं। किसानों ने बताया कि दो दिन पहले मजदूरों से धान की कटनी करा रहे थे। लेकिन, आसमान में बादल को देख हार्वेस्टर से कटनी शुरू करा दिए हैं।

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

समाचार से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

पाठकों की पसंद