loader

फिक्की ने 10 वे कृषि रसायन सम्मलेन का आयोजन किया 

कृषि रसायन उद्योग का देश में कृषि उत्पादन को बढ़ावा देने में बहुत अधिक महत्व है. लगातार कृषि उत्पादन बढाने का दबाव किसानों पर रहता है, ऐसे में कृषि रसायन उद्योग ऐसे उत्पाद किसानों को उपलब्ध करा रहा है 

fasalkranti.in
समाचार, 23 Sep, 2021
कृषि रसायन उद्योग का देश में कृषि उत्पादन को बढ़ावा देने में बहुत अधिक महत्व है. लगातार कृषि उत्पादन बढाने का दबाव किसानों पर रहता है, ऐसे में कृषि रसायन उद्योग ऐसे उत्पाद किसानों को उपलब्ध करा रहा है जिससे की फसल उत्पादन बढाया जा सके. कृषि रसायनों पर मंथन करने के लिए जानी मानी संस्था फिक्की ने कृषि रसायन सम्मलेन के दसवें संस्करण का आयोजन किया.
Ficci Organized  10th edition of AAgrochemical confrence  - Fasal Kranti
इस कार्यक्रम का आयोजन दिल्ली स्थित ली-मेरीडियन होटल में किया गया. कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रवज्ज्लन  के साथ हुई. फिक्की के रसायन, पेट्रोकेमिकल्स, एवं कृषि रसायन विभाग के निदेशक एवं हैड मनोज मेहता ने कार्यक्रम के पहले सेशन को मोडरेट करते हुए कार्यक्रम की शुरुआत की. धानुका एग्रीटेक के ग्रुप चेयरमैन आर जी अग्रवाल ने वेलकम रिमार्क के साथ सभी आगंतुको का स्वागत किया. इसी के साथ उन्होंने आत्मनिर्भर कृषि और आत्मनिर्भर किसान" विषय पर अपनी प्रस्तुति दी. इस मौके पर उन्होंने सभी को संबोधित करते हुए कृषि रसायन क्षेत्र कई बिन्दुओं को हाईलाइट किया. इस दौरान उन्होंने देश में कृषि कार्यों में प्रयोग होने कृषि रसायनों के प्रयोग पर कहा कि अन्य देशों में भारत के मुकाबले बड़े पैमाने पर कृषि रसायनों का प्रयोग होता है. जबकि भारत में यह सामान्य स्तर पर प्रयोग होता है. उन्होंने कहा कि किसानों को कृषि रसायन का प्रयोग बैलेंस करके करना चाहिए.इसी के साथ उन्होंने क्षेत्रीय स्तर पर देशभर में ओ रहे नकली कृषि रसायनों के निर्माण का मुद्दा भी सामने रखा. आरजी अग्रवाल ने कहा कि सरकार को इसको रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए, क्योंकि इससे सरकार को भी नुक्सान है.
इसके बाद कोर्टेवा एग्रीसाईंस के प्रेसिडेंट पीटर फोर्ड ने भी सम्मलेन को संबोधित किया. इसके तुरंत बाद निति आयोग के सदस्य प्रोफे. रमेश चंद ने सभी को संबोधित करते हुए संतुलित कृषि रसायनों के प्रयोग पर जोर दिया. इसी के साथ उन्होंने एकीकृत कीट प्रबंधन प्रणाली को अपनाने पर भी जोर दिया.इसके बाद केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने सभी को संबोधित करते हुए सरकार द्वारा किसानों की लिए उपलब्ध योजनाओं को विषय में बताया. उन्होंने कहा की सरकार किसनों के हित के लिए काम कर रही है. कृषि मंत्री ने कहा सरकार की एफपीओ और किसान क्रेडिट कार्ड जैसी योजनाओ से किसान लाभान्वित हो रहे हैं. इसी के साथ उन्होंने इस सम्मेलन के आयोजको, आगंतुको को धन्यवाद् दिया.
कार्यक्रम में केन्द्रीय राज्य मंत्री भगवंत खुबा ने सम्मेलन में सभी को संबोधित करते हुए सुरक्षित कृषि रसायनों के प्रयोग पर जोर दिया. इसके बाद एचआईएल के सीएमडी ने क्लोजिंग रिमार्क के साथ सम्मेलन  के पहले  सेशन को समाप्त किया . कार्यक्रम का समापन बायर के सीओओ साइमन थोरस्टेन ने किया. इस कार्यक्रम में करीब 500 से अधिक इंडस्ट्री के प्रतिभागियों ने भाग लिया. इस कार्यक्रम को फिजिकल के साथ वर्चुअल तरीके से भी आयोजित किया गया.
सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें

समाचार से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

पाठकों की पसंद